Jan 21, 2016

Best Friendship Hindi Shayari

0


अपनी जिंदगी के अलग असूल हैं,
यार की खातिर तो कांटे भी कबूल हैं,
हंस कर चल दूं कांच के टुकड़ों पर भी,
अगर यार कहे, यह मेरे बिछाए हुए फूल हैं.
 
Best Friendship Hindi Shayari

Reactions:

0 comments:

Post a Comment