Sep 22, 2014

Hindi Shayari On Aukat Se Jayada

0


मगरूर हो जाते है,अक्सर, ज़माने में वही लोग...!
.
.
.
जिन्हें मिलता है ज़्यादा
उनकी "औकात'' से...!!
Reactions:

0 comments:

Post a Comment